अक्षय्य तृतीया

akshay_trutiya

अक्षय्य तृतीया एवं उसे मनानेका शास्त्रीय आधार

अक्षय्य तृतीयाके दिन ब्रह्मा एवं श्रीविष्णु इन दो देवताओंका सम्मिलित तत्त्व पृथ्वीपर आता है । ऐसे पवित्र दिनपर किए गए पूजा-पाठ, होम-हवन, नामजप, दान, पितृतर्पण इत्यादिका लाभ भी अत्यधिक मिलता है ।

Read More »
akshay_trutiya_350

अक्षय तृतीयाके दिनका महत्त्व

अक्षय्य तृतीयाके दिन पितरोंके लिए आमान्न अर्थात दान दिए जानेयोग्य कच्चा अन्न, उदककुंभ; अर्थात जल भरा कलश, खसका पंखा, छाता, पादत्राण एवं जुते-चप्पल, इन वस्तुओंका दान करनेके लिए पुराणोंमें बताया है ।

Read More »
Facebooktwittergoogle_plusFacebooktwittergoogle_plus