Due to a software update, our website may be briefly unavailable on Saturday, 18th Jan 2020, from 10.00 AM IST to 11.30 PM IST

त्यौहार

श्रीरामनवमी

श्री विष्णुके सातवें अवतार श्रीरामके जन्म प्रीत्यर्थ श्री रामनवमी मनाते हैं । चैत्र शुक्ल नवमीको रामनवमी कहते हैं । इस वर्ष रामनवमी १३ अप्रैलको है । अनेक राममंदिरोंमें चैत्र शुक्ल प्रतिपदासे लेकर नौ दिनतक यह उत्सव मनाया जाता है । रामायणके पारायण, कथाकीर्तन तथा राममूर्तिको विविध शृंगार कर, यह उत्सव मनाया जाता है । Read more »

श्रीकृष्णजन्माष्टमी

हिंदुस्थानमें ही नहीं, संपूर्ण विश्वमें श्रीकृष्णजन्माष्टमी अर्थात श्रीकृष्ण जयंती अत्यंत धूमधामसे मनाई जाती है । श्रीकृष्णजन्माष्टमी त्योहार, व्रत तथा उत्सव भी है । गोकुल, मथुरा, वृंदावन, द्वारका, पुरी ये सभी श्रीकृष्णकी उपासनासंबंधी पवित्र स्थल हैं, जहां यह उत्सव विशेष रूपसे मनाते हैं । Read more »

श्री गणेश चतुर्थी

श्री गणेश चतुर्थी पर तथा श्री गणेशोत्सवकाल में नित्यकी तुलना में पृथ्वीपर गणेशतत्त्व १ सहस्र गुना अधिक कार्यरत रहता है । इस काल में की गई श्री गणेशोपासना से गणेशतत्त्व का लाभ अधिक होता है । Read more »

श्री दत्तजयंती

मार्गशीर्ष पूर्णिमाके दिन मृग नक्षत्रपर सायंकाल भगवान दत्तात्रेयका जन्म हुआ, इसलिए इस दिन भगवान दत्तात्रेयका जन्मोत्सव सर्व दत्तक्षेत्रोंमें मनाया जाता है । दत्तजयंतीपर दत्ततत्त्व पृथ्वीपर सदाकी तुलनामें १००० गुना कार्यरत रहता है । इस दिन दत्तकी भक्तिभावसे नामजपादि उपासना करनेपर दत्ततत्त्वका अधिकाधिक लाभ मिलनेमें सहायता होती है । Read more »

कोजागरी पूर्णिमा

आश्विन पूर्णिमा अर्थात कोजागरी पूर्णिमा । श्रीमद्भागवतमें उल्लेख है कि इस दिन भगवान श्रीकृष्णने व्रजमंडलमें रासोत्सव मनाया । इस व्रतके रात्रिकालमें लक्ष्मी एवं ऐरावतपर बैठे इंद्रकी पूजा की जाती है । शरद ऋतुकी र्पूिणमाकी श्वेत चांदनीमें चंद्रको गाढे किए गए दूधका नैवेद्य चढाते हैं । Read more »

1 2 3