हिन्दू अधिवेशन

‘राष्ट्र एवं धर्म’ हेतु संघटितरूप से कार्य किया तो, ‘हिन्दू राष्ट्र’ की स्थापना शीघ्र होगी ! – समर्थभक्त मंदारबुवा रामदासी

हिन्दू जनजागृति समिति की ओर से पुणे के वाळवेकर सभागार में २६ फरवरी को एक दिवसीय प्रांतीय अधिवेशन संपन्न हुआ। प्रस्तुत कर रहें हैं इसीका वृत्तांत, विस्तार से . . .

Read More »

हिन्दू युवकों में ‘हिन्दुत्व का बीज’ बोने का प्रयास करें – ह.भ.प. कृष्णराव क्षीरसागर महाराज

कोल्हापूर के गोकुल-शिरगाव में, श्री भगवती मंगल कार्यालय में आयोजित एक दिवसीय प्रांतीय अधिवेशन का आयोजन किया गया था। प्रस्तुत है इस अधिवेशन का वृतांत…

Read More »

बंगलुरू के प्रांतीय हिन्दू अधिवेशनस्थलपर २५ पुलिसकर्मियों के साथ बलपूर्वक अंदर घूसकर चित्रिकरण करने का बंगलुरू पुलिस प्रशासन का कानूनद्रोही प्रयास !

बंगलुरू में हो रहे प्रांतीय हिन्दू अधिवेशन के कार्यक्रमस्थलपर बंगलुरू पुलिसद्वारा २५ पुलिसकर्मियों को लेकर बलपूर्वक घुसकर कार्यक्रम का चित्रिकरण करने का प्रयास किया गया।

Read More »

हर अधिवक्ता को हिन्दुओं के लिये हितकारी कानून होनेतक लडना आवश्यक है – अधिवक्ता अमृतेश एन.पी.

हाल ही में, बंगलुरू में ‘हिन्दू राष्ट्र’ की स्थापना हेतु यहां के श्री आदि चुंचनगिरी समुदाय भवन में हिन्दू जनजागृति समिति की ओर से आयोजित २१ एवं २२ जनवरी को दो दिवसीय प्रांतीय हिन्दू अधिवेशन का आयोजन किया गया। प्रस्तुत कर रहें हैं, इसी का वृत्तांत . . .

Read More »

धर्मग्लानि की लडाई में धर्म के पक्ष में खडे रहने के लिए धर्म के उपासना की आवश्यकता है – श्री. योगेश व्हनमारे, हिन्दू जनजागृति समिति

भोपाल में धर्मरक्षा संगठन की ओर से ‘द्वितीय हिन्दू अधिवेशन’ का आयोजन किया गया था । प्रस्तुत है उसका वृतांत…

Read More »
शिवपाडी (कर्नाटक) में प्रांतीय हिन्दू अधिवेशन में संत एवं हिन्दुत्वनिष्ठों का सहभाग

शिवपाडी (कर्नाटक) में प्रांतीय हिन्दू अधिवेशन में संत एवं हिन्दुत्वनिष्ठों का सहभाग

हिन्दू जनजागृति समिति की ओर से रविवार, ११ दिसंबर को शिवपाडी एवं मणिपाल में आयोजित प्रांतीय हिन्दू अधिवेशन का उद्घाटन पेजावर स्वामीजी श्री श्री श्री विश्‍वप्रसन्न तीर्थ के शुभहाथों किया गया ।

Read More »

सांप्रदायिक एकता समय की मांग है ! – ह.भ.प. जनार्दन महाराज मेट

फटे हुए नोटों की तरह आजकी हमारे हिन्दू धर्म की स्थिति हो गई है । उसमें परिवर्तन लाने हेतु ही हमारे साधु-संतों की भांति संगठन करने की स्थिति आ गई है । हिन्दू राष्ट्र की स्थापना हेतु अब सभी संप्रदाय एवं संगठनों को एकत्रित होना ही होगा, सांप्रदायिक एकता समय की मांग है ।

Read More »

आपसी मतभेद, संप्रदाय तथा उपासना व्यक्तिगत स्तर पर रखकर ‘हिन्दू राष्ट्र’ की स्थापना हेतु संघटित रहेंगे ! – ह.भ.प. अभयमहाराज सहस्रबुद्धे

हिन्दू जनजागृति समितिद्वारा चिपलून (जिला रत्नागिरी) में २० नवम्बर को ‘रत्नागिरी प्रांतीय हिन्दू अधिवेशन’ संपन्न हुआ। प्रस्तुत कर रहें इसीका वृत्तांत विस्तार से . . .

Read More »

धर्म पर हो रहे आघातों के विरोध में संगठित रूप से लडने के निश्‍चय के साथ, अधिवेशन का समापन !

ठाणे में हाल ही में, दो दिवसीय पंचम प्रांतीय हिन्दू अधिवेशन का समापन हुआ। प्रस्तुत कर रहें हैं इसी का वृत्तांत . . .

Read More »

हिन्दुत्वनिष्ठोंद्वारा सामाजिक प्रसारमाध्यमों का प्रभावशाली पद्धति से उपयोग कर हिन्दुत्व की आवाज बुलंद करने का निश्‍चय !

हाल ही ठाणे में संपन्न हुए पंचम प्रांतीय हिन्दू अधिवेशन के दूसरे दिन ‘सामाजिक प्रसारमाध्यमों के माध्यम से धर्मप्रसार का महत्त्व तथा उसका नियोजन’ इस संदर्भ में एक चर्चासत्र का आयोजन किया गया था। धर्मप्रसार हेतु हिन्दुत्वनिष्ठों ने इसका लाभ उठाना चाहिए।

Read More »
1 2 3 11