हिन्दूआेंके प्रश्न

Signature Campaign : निकिता तोमर हत्या समान घटनाएं रोकने हेतु केंद्र सरकार ‘लव जिहाद विरोधी कानून’ बनाए !

फरीदाबाद (हरियाणा) के वल्लभगढ में 28 अक्‍टूबर 2020 को 21 वर्ष की छात्रा निकिता तोमर की हत्‍या तौसिफ नाम के धर्मांध युवक ने गोलियां चलाकर कर दिन दहाडे कर दी । इससे पूरे देश में जनाक्रोश व्‍याप्‍त है । इस हत्‍या के आरोपी तौसीफ और रेहान को बंदी बना लिया गया है । मृत निकिता … Read more

आश्रम वेब सीरिज – हिंदू धर्म की छवि बिगाडने का एक और प्रयास

यदि वास्तव में इस देश के सभी धार्मिक विश्वासों और ‘खरे’ संतों का सम्मान करते हैं, तो आपने इस श्रृंखला के लिए ‘आश्रम’ नाम ही क्यों चुना ? जो दिखाने का प्रयास किया है वह एक पंथ की विशेषताएं हैं । ईसाई और इस्लाम में भी पंथ हैं । धर्मनिरपेक्षता का अनुसरण कर अपनी श्रृंखला का नाम ‘पंथ’ क्यों नही रखा ? ‘आश्रम’ ही क्यों ? Read more »

पुस्तकों द्वारा हिन्दूविरोधी लेखन प्रकाशित कर देश में फैलाया जा रहा है बौद्धिक आतंकवाद

आज हम उस दौर में रह रहे हैं, जहां कट्टरपंथी इस्लाम ने लाखों लोगों की मौत के साथ दुनिया को अपने चंगुल में जकड रखा है, जो काफिरों (हिन्दुओं) पर होने वाली हर तरह की हिंसा के लिए साफ तौर पर जिम्मेदार है। Read more »

Signature Campaign : भारतीय संविधान में असंवैधानिक रूप से जोडा हुआ ‘सेक्‍युलर’ शब्द हटाने की मांग करें !

आज ‘सेक्यूलर’ शब्द का अर्थ सीधे-सीधे ‘धर्मनिरपेक्षता’ ऐसा लगाया जाता है । ‘संविधान के अनुसार भारत धर्मनिरपेक्ष है, इसलिए ‘सार्वजनिक जीवन में हिन्दू धर्म को स्थान प्राप्त होना’, धर्मनिरपेक्षता के अर्थात संविधान के विरुद्ध है’, इस प्रकार का दुष्प्रचार निरंतर किया जा रहा है । देश के नास्‍तिकतावादी लोगों ने ‘सेक्‍युलर’ शब्‍द का अर्थ ‘धर्मनिरपेक्षता’ लगाकर … Read more

हिन्दुओं को मिटाने का नियोजनबद्ध षड्यंत्र : हिन्दुत्वनिष्ठों के बाद अब साधुओं का हत्यासत्र

आज देशभर के विविध राज्यों में हिन्दू साधुओं को चुन-चुनकर मारा जा रहा है । उन पर प्राणघाती आक्रमण किए जा रहे हैं । इससे पूर्व अनेक राज्यों में हिन्दुत्वनिष्ठों की हत्याओं का षड्यंत्र रचकर उनकी हत्याएं की जा रही थीं; परंतु अब उसी प्रकार हिन्दू साधुओं को मिटाने का नियोजनबद्ध षड्यंत्र चल रहा है, ऐसा दिखाई देता है । Read more »

बकरी र्इद के समय होनेवाली गोहत्या रोकें !

इस वर्ष २२ अगस्त २०१८ को बकरी र्इद है । सरकार हिन्दुआें को त्यौहार ‘इको फ्रेंडली’ (पर्यावरण को पूरक) रूप में मनाने के लिए कहती है, उसी प्रकार सरकार को मुस्लिमों से कहना चाहिए की आप भी ‘इको फ्रेंडली’ बकरी र्इद मनाए तथा इस अवसर पर इस्लाम में बताए गए सभी नियमों का पालन करे । Read more »

हिन्दुआेंपर अत्याचार

१९ जनवरी १९९० – ये वही काली तिथि है जब लाखों कश्मीरी हिंदुओं को सदैव के लिए अपनी धरती, अपना घर छोड कर अपने ही देश में शरणार्थी होना पडा । वे आज भी शरणार्थी हैं । Read more »

1 2