विरोध करें : बिग बझार के विज्ञापनद्वारा हिंदु धर्म का घोर अनादर


 

हिंदु समाजको आवाहन

‘मेकिंग इंडिया ब्युटीफूल’ नामसे ‘बिग बझार’का एक नया विज्ञापन आया है, जिसमें हिंदु धर्मका अपमान किया गया है । इस विज्ञापनमें यह दिखाया गया है कि एक स्टायलिश मॉडर्न लडकी मंदिरमें प्रवेश करती है । मंदिरमें जानेके पश्‍चात वह देवताकी मूर्तिको हाय भगवानजी कहकर संबोधित करती है । तदुपरांत जब मंदिरके पुजारी इस लडकीको प्रसाद देते है । उसे लेकर निकलते समय यह लडकी उनसे सी या (see ya) कहती है, तो पुजारीजी भी उसे सी या (see ya) कहकर उत्तर देते हैं । पश्‍चात वहीं पुजारी दुसरी एक स्त्रीको जब प्रसाद देते है, तब जय सियाराम कहते हैं । विज्ञापनके दौरान कुछ क्षणोंके लिए पृष्ठभूमिमें मंत्रोंका उच्चारण किया गया है ।

इस विश्‍लेषणसे यह पता चलता है की बिग बझारने यह विज्ञापन उनके डेनिम्स (कपडों का एक प्रकार) के प्रचारके लिए किया है; परंतु यह विज्ञापन जिस प्रकारसे चित्रित किया है, उससे हिंदु धर्मका अपमान हुआ है । मंदिरमें आई हुई लडकी भगवानकी मूर्ति एवं पुजारीसे जिस प्रकारसे बात कर रही है, वह भी उचित नहीं है । किसी भी भक्तको मंदिरमें भक्ति एवं आध्यात्मिक भावके साथ जाना चाहिए, तभी उसे आध्यात्मिक लाभ होता है, न की इस विज्ञापनमें दिखाए गए प्रकारसे ।

अब सभी हिंदुओंका यह कर्तव्य है की बिग बझारके विज्ञापनद्वारा किए गए हिंदु धर्मके अपमानके विरूद्ध वैधानिक रूपसे विरोध करना चाहिए, जिसके फलस्वरूप बिग बझार यह विज्ञापन निरस्त करें तथा सभी हिंदुओंकी क्षमायाचना करें । जब तक बिग बझार यह विज्ञापन निरस्त नहीं करता एवं हिंदुओंकी क्षमायाचना नहीं करता, तब तक सभी हिंदुओंको बिग बझार तथा उसके सहयोगी आस्थापनोंका पूर्णरूपसे बहिष्कार करना चाहिए ।

Devout Hindus can send their lawful protest directly to the concerned authorities through Comments Section.

 

Devout Hindus are protesting lawfully on following contact details

Future Retail

Knowledge House, Shyam Nagar
Off Jogeshwari-Vikhroli Link Road
Jogeshwari (East),
Mumbai 400 060

Tel: +91 22-3084 1300
Fax: +91 22-6644 2222

Website : http://www.futureretail.co.in

Email : [email protected]

Notice : The source URLs cited in the news/article might be only valid on the date the news/article was published. Most of them may become invalid from a day to a few months later. When a URL fails to work, you may go to the top level of the sources website and search for the news/article.

Disclaimer : The news/article published are collected from various sources and responsibility of news/article lies solely on the source itself. Hindu Janajagruti Samiti (HJS) or its website is not in anyway connected nor it is responsible for the news/article content presented here. ​Opinions expressed in this article are the authors personal opinions. Information, facts or opinions shared by the Author do not reflect the views of HJS and HJS is not responsible or liable for the same. The Author is responsible for accuracy, completeness, suitability and validity of any information in this article. ​