सांस्कृतिक और राष्ट्रीय अभिमान बढानेवाली रुचियां रखें !

बच्चो, डाक टिकट अथवा विविध देशों के पत्रमुद्रा (नोट) संग्रह करना, दूरदर्शनपर मनोरंजन के कार्यक्रम देखना, क्रिकेट का खेल खेलना एवं देखना, ‘वीडिओ गेम’ खेलना आदि रुचि रखने के स्थानपर आगे दिए अनुसार रुचि रखें –

१.‘कॉमिक्स’ अथवा काल्पनिक कथाओं की पुस्तकें पढने के स्थानपर संत एवं राष्ट्रपुरुषों के चरित्र, सांस्कृतिक समाचारपत्र आदि पढा करें !

२.हिंदुओं के तेजस्वी राजा, राष्ट्रपुरुष, क्रांतिकारियों और संतों के चित्र तथा बोधप्रद वचनों का संग्रह करें !

३.पाठ करने की रुचि रखें! देवताओं की आरती, हनुमानचालीसा, रामरक्षास्तोत्र आदि; गीता के श्लोक, सुभाषित, राष्ट्र्र और धर्मजागृति करनेवाली वीर रस की कविताएं जैसे हल्दीघाटी, आल्हा तथा अन्य प्रेरकगीतों का गायन करें !

४.योगासन, प्राणायाम आदि प्रतिदिन कर शारीरिक सामथ्र्य बढाएं !

बच्चो, समय का सदुपयोग राष्ट्र के लिए कर, अपना जीवन आदर्श बनाएं !