झांसी का किला

उत्तर प्रदेश राज्य के झाँसी में बंगरा नामक पहाड़ी पर १६१३ इस्वी में यह दुर्ग ओरछा के बुन्देल राजा बीरसिंह जुदेव ने बनवाया था । २५ वर्षों तक बुंदेलों ने यहाँ राज्य किया उसके बाद इस दुर्ग पर क्रमश मुगलों, मराठों और अंग्रजों का अधिकार रहा । Read more »

मेहरानगढ

मेहरानगढ किला भारत के राजस्थान प्रांत में जोधपुर शहर में स्थित है । पन्द्रहवी शताब्दी का यह विशालकाय किला, पथरीली चट्टान पहाड़ी पर, मैदान से १२५ मीटर ऊँचाई पर स्थित है और आठ द्वारों व अनगिनत बुर्जों से युक्त दस किलोमीटर लंबी ऊँची दीवार से घिरा है । Read more »

इलाहाबाद किला

इलाहाबाद किला उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद शहर में स्थित है । गंगा-यमुना के पवित्र संगम के किनारे स्थित इस भव्य किले का निर्माण सन १५८३ में करवाया था । Read more »

जय जालोर

मारवाड के दक्षिण-पश्चिम में स्थित जालोर इतिहास में अपना विलक्षण स्थान रखता है । इस जिले में पर्यटन और पुरातत्व की दृष्टि से विकास की अगणित संभावनाएं हैं । पुरातन परम्पराओं और संस्कृति को यहां के लोगोंने संभालकर रखा है । Read more »

रायरेश्वर

इसी रायरेश्वर के पर्वतपर शिवाजी महाराजने स्वराज्य की शपथ ली । मात्र यह घटना काल्पनिक है कि सत्य, इस विषय में कुछ निश्चित कहना कठिन है । Read more »

भूदरगढ

कोल्हापुर से लगभग ५०-५५ कि.मी. की दूरीपर भूदरगढ किला है । यह किला यहां के जागृत भैरवनाथजी के देवालय के कारण विख्यात है । Read more »