१८५७ के स्वतंत्रता संग्रामका प्रथम क्रांतिकारी वीर मंगल पांडे

मंगल पांडे ३४ वीं पलटन के युवा ब्राह्मण सैनिक थे । वे क्रांतिदल के सदस्य थे । कोलकाता के निकट बैरकपुर की १९ वीं पलटन को उस समय अंग्रेज अधिकारियोंने गाय और सूअर की चरबी लगे नए कारतूस देने का निर्णय लिया । Read more »

तात्या टोपे : स्वतंत्रता संग्राम १८५७ के सेनापति

तात्या टोपे का जन्म १८१४ में येवला में हुआ । उनके पिता का नाम पांडुरंग त्र्यंबक भट था । उनके पिता बाजीराव पेशवा के धर्मदाय विभाग के प्रमुख थे ।
Read more »

अपनी आयु के १८ वें वर्ष में मातृभूमिपर अपने प्राणों को न्योछावर करनेवाले हुतात्मा अनंत कान्हेर !

अनंतराव का जन्म १८९१ में रत्नागिरी जनपद के आयनी-मेटे गांव में हुआ । अंग्रेजी शिक्षण हेतु वह अपने मामा के पास संभाजीनगर (औरंगाबाद) गए थे । Read more »

भारत माता के वीर सपूत और अंग्रेज अत्याचारियों के काल : चापेकर बंधू

दामोदर हरि चापेकर का घराना मूल कोकण के वेळणेश्वर का था; किन्तु उनके पूर्वज पुणे के निकट चिंचवड में आकर बस गए । Read more »

स्वांतत्र्यवीर सावरकर

हमारे देश से अंग्रेजों का राज हटाने के लिए अनेक देशभक्तों ने प्रयत्न किए । इन देशभक्तों में एक गुट था, सशस्त्र क्रांतिवीरों का । इन क्रांतिवीरों में झांसी की रानी लक्ष्मीबाई, सेनापति तात्या-साहेब टोपे…. Read more »