अध्ययन के लिए बैठने के स्थलपर देवताओं के चित्र रखें !

श्री गणपति, श्री सरस्वतीदेवी और कुलदेवता / उपास्यदेवता का चित्र अथवा इनमें से जो उपलब्ध हो, उस देवता का चित्र अध्ययन के पटलपर (टेबलपर) अथवा अध्ययन के कक्ष में रखें । देवता का चित्र सामने रख उनके चरणों की ओर देखकर प्रार्थना और नामजप करने से मन शीघ्र एकाग्र हो जाता है ।

देवताओं के चित्र के सामने सात्त्विक अगरबत्ती जलाएं

अगरबत्ती की सुगंध से वातावरण और मन शुद्ध होता है । साथ ही, वातावरण में प्रसन्नता अनुभव होती है । इससे मन उत्साहित एवं एकाग्र चित्त रहता है ।

प्रार्थना करें !

अ. अध्ययन प्रारंभ करने से पहले विद्या के देवता श्री गणपति तथा श्रीसरस्वतीदेवी से प्रार्थना करें, हे भगवन,मेरी पढाई अच्छी होने के लिए मुझे बुदि्ध दीजिए; मैं जो पढूं उसे भलीभांति समझपाऊं, ऐसी कृपा कीजिए ।

आ. अध्ययन करते समय थोडे-थोडे अंतराल में कुलदेवता से /उपास्यदेवता से यह प्रार्थना करें, ‘हे कुलदेवता, मेरी पढाई एकाग्रता से हो ।’

इ. अध्ययन आरंभ करने से पूर्व दस मिनट नामजप करें :अध्ययन में एकाग्रता हेतु प्रार्थना के पश्चात १० मिनट कुलदेवता का अथवा उपास्यदेवता का नामजप करें ।

संदर्भ : सनातन-निर्मित ग्रंथ ‘अध्ययन कैसे करें ?’