हिं. ज. समिति एवं सनातन संस्थाका ‘राष्ट्रध्वजका सम्मान करें’ अभियान सफल !

मुंबई, १७ अगस्त (वार्ता.) – राष्ट्र तथा धर्मके कार्यके लिए सदैव तत्पर हिंदु जनजागृति समितिद्वारा पिछले अनेक वर्षोंसे ‘राष्ट्रध्वजका सम्मान करें’ अभियान चलाया जा रहा है । राष्ट्रप्रेमी नागरिकोंद्वारा इस अभियानको अधिक मात्रामें प्रतिसाद मिल रहा है । इस वर्ष भी मुंबई, नई मुंबई, रायगढ, लासलगांवमें चलाए गए इस अभियानको समाजकी ओरसे मिली प्रतिक्रियाओंसे नागरिकोंमें राष्ट्रप्रेमका बीज अंकुरित हो रहा यह स्पष्ट है । प्रदर्शन, व्याख्यान, हस्तपत्रक एवं प्रबोधनपर फलकोंके माध्यमसे नागरिकोंको राष्ट्रध्वजका सम्मान रखनेका आवाहन किया गया । १५ अगस्तको दोपहरसे रास्तोंपर तथा नालियोंमें पडे हुए राष्ट्रध्वज संकलित करनेहेतु अनेक स्थानोंपर ध्वजसंकलन पेटियां रखी गई थीं ।

बृहन्मुंबई

गिरगांवमें कुलाबा मार्केट, आर्.एम्. भट हायस्कूल, परेल; मोतीशहा म.न.पा. शाला, मजगांव; ब्राह्मण सेवा मंडल, दादर तथा जांभोरी मैदान, वरलीमें इ.क्र. १०८में उपस्थित नागरिकोंका व्याख्यानद्वारा प्रबोधन किया गया । गुरुकुल क्लासेस, शिवडी; गणेश क्लास, परेलके विद्यार्थियोंका भी राष्ट्रध्वजके विषयमें प्रबोधन किया गया । धारावीके वङ्का दल शाखाके कार्यकर्ताओंको राष्ट्रके विषयमें किए व्याख्यान अच्छे लगे और उन्होंने १५ अगस्तको रास्तेपर विदीर्ण अवस्थामें बिखरे हुए राष्ट्रध्वज तत्परतासे संकलित किए ।

गुरुकृपा प्रतिष्ठानद्वारा ब्राह्मण सेवा मंडलके सभागृहमें ओमकार कोऑपरेटिव सोसायटीके १८ वीं वार्षिक सभामें ‘राष्ट्र एवं धर्मकी वर्तमानस्थिति’ विषयपर श्रीमती विजया शहाद्वारा २०० जिज्ञासुओंको मार्गदर्शन किया गया ।

महालक्ष्मीके लाला लाजपतराय महाविद्यालयमें धर्मशक्ति सेनाकी ओरसे ‘राष्ट्रध्वजका सम्मान रखें’ इस विषयपर प्रवचन दिया गया । इस अवसरपर धर्मशक्ति सेनाके प्रा. डॉ. लक्ष्मण जठार एवं कु. भक्ति दलवीने उपस्थित छात्रोंको मार्गदर्शन किया । धर्मशक्ति सेनाद्वारा जेइएस् महाविद्यालय (परल), महर्षि दयानंद महाविद्यालय (हाफकिन), रूपारेल महाविद्यालय (दादर), रुईया महाविद्यालय (माटुंगा), खालसा महाविद्यालय (माटुंगा), कीर्ति महाविद्यालय (दादर), जय हिंद महाविद्यालय (गिरगांव), आर्.डी. नैशनल महाविद्यालय (वांद्रे), महाराष्ट्र हायस्कूल (दादर), छबीलदास कनिष्ठ महाविद्यालय, शारदाश्रम कनिष्ठ महाविद्यालय तथा अन्य महाविद्यालयोंमें इस प्रकारका प्रवचन दिया गया । इन विद्यालय-महाविद्यालयोंमें १५०० छात्रोंने मार्गदर्शनका लाभ लिया ।

छत्रपति संभाजीराजे विद्यालय, सांताक्रूज (पू.); वाडिया हायस्कूल, डीएन् नगर, अंधेरी (प.); प्रभु सेमिनरी हायस्कूल एवं चिकित्सक हायस्कूल (गिरगांव); प्रतीक्षानगर (वडाला)के घरेलु अभ्यासवर्ग; शिवाजी विद्यालय, कालीचौकी, (परेल); ज्ञानामृत क्लासेस, तुंगागांव, (पवई ); सारसोले, नेरुलकी शालामें हिंदु जनजागृति समितिद्वारा राष्ट्रध्वजका सम्मान रखनेके संदर्भमें प्रश्नमंजुषाका आयोजन किया गया था ।

मध्यमुंबई

भांडुपके दीपक ट्युटोरीअल्समें पढनेवाले सह्याद्रि शालाके छात्रोंने स्कूलके बाहर प्लास्टिकके ध्वज बेचनेवालोंका प्रबोधन कर उन्हें समझाया कि अपने राष्ट्रध्वजका अनादर कैसे होता है । घाटकोपर पंतनगरकी शिवसेना शाखा, दत्त दिगंबर हाउसिंग सोसायटीमें राष्ट्रकी वर्तमानस्थितिके संदर्भमें विषय रखकर उपस्थितोंको इसकी जानकारी दी गई ।

पश्चिम मुंबई

छत्रपति संभाजी राजे विद्यालय, सांताक्रूझ (पू.) एवं नागरीनिवारा शाला, म.न.पा. शाला, मालाड शालाओंमें तथा सरस्वती, नूतनताई एवं श्रुति मालाडके निजी अभ्यासवर्गमें तथा ठाकुर सेठ पाडा मंडल, तृप्ति बिल्डिंग अंधेरी (प.), आरामनगर, वर्सोवामें व्याख्यान दिया गया । विलेपार्लेमें अखंड भारत संगठनद्वारा १५ अगस्तके उपलक्ष्यमें प्रबोधनपर फेरीका आयोजन किया गया था । इस फेरीमें २०० लोग एवं समितिके कार्यकर्ताओंने सक्रिय सहभाग लिया था । फेरीका आरंभ शिवाजी चौक, कोलडोंगरीसे एवं समाप्ति समारोप साई मंदिर, कुंकूवाडी, विलेपार्ले (पू.) में हुई । फेरीमें सहभागी राष्ट्रप्रेमी उत्स्फूर्ततासे घोषणा दे रहे थे । भाजप मुंबई प्रदेशाध्यक्ष श्री. बाबा कुलकर्णी, भाजप नगरसेवक श्री. चंद्रकांत पवार तथा शिवसेना नगरसेवक श्री. शशिकांत पाटकर आदि श्रेष्ठगण इस अवसरपर उपस्थित थे । फेरीकी समापन राष्ट्रगीतसे हुआ । सत्तू कदम विद्यालय, पालघर, जिला परिषद शाला, टैप्स कालोनी, बोईसरके छात्रोंको भी १५ अगस्तके उपलक्ष्यमें मार्गदर्शन किया गया ।

नई मुंबई

रोटरी क्लब ऑफ नई मुंबई, वाशी तथा नई मुंबई महानगरपालिकाके पाठशालामें गुरुजनोंके सामने एवं खारघरमें शिव सरस्वती विद्यालयकी कक्षा ५ वीं से ७ वींके छात्रोंके सामने यह विषय प्रस्तुत किया गया । ऐरोलीमें ३ शालाओंमें एवं ७ मंदिरोंमें राष्ट्रध्वजके विषयमें प्रबोधनात्मक आशय फलकोंपर लगाया गया । न्यू सिटी सरस्वती विद्यालय मूर्वीगांव (खारघर) में १५ अगस्तके उपलक्ष्यमें श्रीमती शुभांगी घुमकरने प्रवचन किया । उसमें १०० छात्रोंने सहभाग लिया । श्रीमती इंदिरा कुंदरने १५ अगस्तकी प्रश्नमंजुषा ली । दैनिक ‘सनातन प्रभात’में छपे ‘वन्दे मातरम्का इतिहास’ नामक लेखको मुंबईके दैनिक मुंबई लक्षदीप, मुंबई संध्या, वृत्तमानस, आपला वार्ताहरने स्पष्ट रूपसे प्रकाशित किया । नई मुंबईके ‘नवे शहर’ दैनिकने भी ‘राष्ट्रध्वजका सम्मान रखें’ यह लेख प्रकाशित किया । इस लेखकी अनमोल जानकारी २ लक्ष ७५ सहस्र पाठकोंतक पहुंचाई गई ।

रायगढ

रायगढ तालुकामें  हिंदु जनजागृति समितिद्वारा तहसीलदारको प्लास्टिकके राष्ट्रध्वजपर प्रतिबंध लगानेके विषयमें सर्वश्री सुरेश पुरोहित, विश्वास माऊसकर, किशोर पितळे, गणेश बामणे, चंद्रकांत भोईरकी उपस्थितिमें निवेदन दिया गया तथा हिंदु जनजागृति समितिद्वारा खांदा कालोनी, नवीन पनवेलमें बालसंस्कारवर्गके २० लडकोंने राष्ट्रध्वजके अनादरके विषयमें जनप्रबोधन किया । समितिद्वारा रायगढ जिला परिषद शाला, असुडगांव; पनवेल नगरपरिषद प्राथमिक शाला क्र. ५ बडा खांदा, श्री गणेश विद्या मंदिर धांकटे खांदे एवं खांदा कालोनीकी प्रेरणा क्लासेसमें ‘राष्ट्रध्वजका सम्मान रखें’ विषयपर प्रवचन लिया गया । इसका लाभ ४१० छात्रोंने लिया । सिद्धिविनायक विद्यालय, से. ११, कामोठेमें पहलीसे दसवींके छात्रोंको श्रीमती वंदना आपटेने क्रांतिकारियोंकी जानकारी दी तथा स्वतंत्रता दिवसके अवसरपर राष्ट्रध्वजका महत्त्व बताया । इस समय ११५ छात्र एवं १० गुरुजन उपस्थित थे । उसीप्रकार कै. सुषमा पाटील विद्यालय तथा कामोठेमें ४ थीके छात्रोंको राष्ट्रध्वजका महत्त्व एवं जानकारी दी गई ।

लासलगांव

राष्ट्रध्वजका अनादर रोकने हेतु हिंदु जनजागृति समितिद्वारा लासलगांव शहरमें अभियान चलाया गया एवं इस संदर्भमें स्थानीय पुलिस थानेमें एक निवेदन भी दिया गया । अतः एक पुलिसने शहरके सभी दुकानोंमें जाकर कानूनद्वारा असंमत प्लास्टिकके राष्ट्रध्वजकी बिक्री न करनेके संदर्भमें सूचना दी, जिससे शहरमें प्लास्टिकके एक भी राष्ट्रध्वजकी बिक्री नहीं हुई ।

स्रोत : Dainik Sanatan Prabhat

Related Tags

राष्ट्रध्वज का सम्मान करेंराष्ट्रीयहिन्दू जनजागृति समिति

Notice : The source URLs cited in the news/article might be only valid on the date the news/article was published. Most of them may become invalid from a day to a few months later. When a URL fails to work, you may go to the top level of the sources website and search for the news/article.

Disclaimer : The news/article published are collected from various sources and responsibility of news/article lies solely on the source itself. Hindu Janajagruti Samiti (HJS) or its website is not in anyway connected nor it is responsible for the news/article content presented here. ​Opinions expressed in this article are the authors personal opinions. Information, facts or opinions shared by the Author do not reflect the views of HJS and HJS is not responsible or liable for the same. The Author is responsible for accuracy, completeness, suitability and validity of any information in this article. ​