Due to a software update, our website may be briefly unavailable on Saturday, 18th Jan 2020, from 10.00 AM IST to 11.30 PM IST

मंदिर रक्षा

श्रीरामजन्मभूमि

श्रीरामजन्मभूमि के साथ न्याय हुआ ! हिन्दू जनजागृति समिति ने कहा है कि हमारी न्याय देवता के प्रति श्रद्धा है । हिन्दू समाज की कई पीढियां, सैकडों वर्ष से जिस न्याय की प्रतीक्षा में थीं, आज उस श्रीरामजन्मभूमि के साथ न्याय हुआ है । हमारी यह भावना है कि प्रभु श्रीरामचंद्रजी ने हमें यह न्याय … Read more

श्री जगन्नाथ मंदिर क्षेत्र में स्थित मठों को अवैध घोषित कर उन्हें गिराने की कार्रवाई रोकें !

ओडिशा सरकार ने श्री जगन्नाथ मंदिर जैसा तीर्थक्षेत्र जिस नगरी में है, उस पुरी नगरी को ऐतिहासिक नगर बनाना, उसका सुशोभीकरण करना तथा संभावित आतंकी आक्रमण से मंदिर की रक्षा करना, इन कारणों के लिए कुछ योजनाएं बनाई हैं । इस परिप्रेक्ष्य में मंदिर की सुरक्षा हेतु उसके चारों ओर से ७५ मीटर की भूमि … Read more

श्रीराम नवमी के दिन हिन्दुआें को श्रीराम जन्मभूमि के स्थान पर श्रीरामजी की पूजा करने हेतु विशेष अनुमति मिले !

साथ ही अयोध्या में भव्य श्रीराम मंदिर का निर्माण कर वचनपूर्ती करें ! भगवान श्रीराम करोडों हिन्दुआें के श्रद्धास्थान है । उत्तरप्रदेश की अयोध्या नगरी में प्रभू श्रीराम का जन्मस्थान है जो सभी दृष्टि से सिद्ध हो गया है । ३० सितंबर २०१० को प्रयाग (इलाहाबाद) उच्च न्यायालय ने भी अपना निर्णय देते समय कहा … Read more

भाेजशाला (सरस्वती मंदिर)

इस्लामी आक्रमणकारियों से लडनेवाली भोजशाला (सरस्वती मंदिर) को पुनर्वैभव की प्रतीक्षा ! इस्लामी आक्रमणकारियोंने जिस प्रकारसे अयोध्याकी श्रीराम जन्मभूमि, मथुराका श्रीकृष्ण जन्मस्थान एवं काशीके विश्वनाथ मंदिरको बलपूर्वक ले लिया था , उसी प्रकारका प्रयत्न वे धार (मध्यप्रदेश) की भोजशालाके विषयमें कर रहे हैं । भोजशाला, अर्थात विद्याकी देवी सरस्वतीका प्रकटस्थल ! अपने अनेक प्रकारकी विद्याओंका … Read more

कर्नाटक राज्य के ‘मुझराई’ (इंडोवमेंट) विभाग के अन्य धर्मीय अधिकारियों की नियुक्ती तत्काल रद्द करें !

सरकार द्वारा जनता को प्रदान किए गए सूचना अधिकार अधिनयम के अंतर्गत मंगवाई गई जानकारी के अनुसार कर्नाटक सरकार ने राज्य के हिन्दू मंदिरों का प्रबंधन देखने हेतु बनाए गए ‘मुझराई’ (इंडोवमेंट) विभाग में हिन्दू धर्मियों के अतिरिक्त अन्य धर्मीय (४ मुस्लिम तथा २ ईसाई) अधिकारियों की नियुक्ती होने की बात सामने आई है । … Read more

पश्चिम महाराष्ट्र देवस्थान समितिद्वारा किए गए विशाल घोटालेके विरुद्ध संगठित होइए !

राज्यकर्ता, राजनीतिज्ञ एवं नौकरशाहों का अभद्र गठबंधन होने पर धर्म की हानि किस प्रकार होती है, इसका सर्वोत्तम उदाहरण है पश्‍चिम महाराष्ट्र देवस्थान समिति में इस अभद्र गठबंधन द्वारा किया गया हजारों कोटि रुपयों का घोटाला । Read more »